मंगलवार, अगस्त 07, 2012

यह हमारे वक़्त की सबसे सही पहचान है

ओ बी ओ लाइव तरही मुशायरा अंक - 25


*********************

3 टिप्‍पणियां:

veerubhai ने कहा…

बढ़िया शैर कहें हैं सभी ,शुक्रिया कृपया यहाँ भी पधारें -
ram ram bhai
मंगलवार, 7 अगस्त 2012
भौतिक और भावजगत(मनो -शरीर ) की सेहत भी जुडी है आपकी रीढ़ से

सुशील ने कहा…

देश की हर शाख पर उल्लू , दशा अब सोच लो
सच यही , बैठा यहाँ उल्लू वहां वीरान है |

ये भी देश के लिये परेशान हो रहा
देखिये कितनी सुंदर गजल दे रहा
करने को कुछ है कहाँ अब बस
जिसे देखो उल्लू को नसीहत दे रहा !

मन के - मनके ने कहा…

चर्चामंच पर प्रस्तुत सुंदर लिंक के लिये
साभार धन्यवाद.

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...